बड़ी खबरें

दिल्ली में पीएम मोदी की चुनावी रैली में पहुंचे सिंगापुर के उच्चायुक्त, भगवा गमछा डाल कर पोस्ट की तस्वीर 20 घंटे पहले स्वाती मालीवाल केस में विभव कुमार को तीस हजारी कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा 20 घंटे पहले IPL 2024 का गणित, CSK बाहर, RCB प्लेऑफ में पहुंची, आज RR-SRH में से कोई एक टॉप-2 में करेगा फिनिश 20 घंटे पहले यूपी में पहली बार चुनाव में कोई बाहुबली नहीं, कभी एक साथ थे 16 विधायक-सांसद 20 घंटे पहले AI और साइबर सिक्योरिटी से कर सकेंगे पार्ट टाइम M.Tech, लखनऊ विश्वविद्यालय में अब 5 विषयों में पार्ट टाइम M.Tech की सुविधा 20 घंटे पहले पांच साल में लखनऊ आज सबसे गर्म, 45 डिग्री अधिकतम तापमान, अभी चलती रहेगी हीटवेव 20 घंटे पहले एम्स (AIIMS) रायपुर में सीनियर रेजिडेंट के पदों पर निकली भर्ती, एज लिमिट 45 वर्ष, 65 हजार से ज्यादा मिलेगी सैलरी 20 घंटे पहले रेलवे में ऑफिसर के पदों पर निकली भर्ती, एज लिमिट 37 वर्ष, सैलरी 2 लाख से ज्यादा 20 घंटे पहले यूपी के 14 लोकसभा क्षेत्रों में कल सार्वजनिक अवकाश की घोषणा, उल्लंघन के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई 18 घंटे पहले प्रयागराज में राहुल और अखिलेश की सभा में मची भगदड़, कार्यकर्ता बैरिकेडिंग तोड़कर घुसे अंदर 17 घंटे पहले प्रतापगढ़ में सीएम योगी की जनसभा, कहा- सपा और कांग्रेस लगाना चाहती है औरंगजेब का जजिया कर 16 घंटे पहले

IIRF की लॉ फैकल्टी रैंकिंग में यूपी के चार विश्वविद्यालय, स्टेट में टॉप पर है लखनऊ यूनिवर्सिटी

Blog Image

उत्तर प्रदेश के चार विश्वविद्यालयों ने कानून की पढ़ाई में  कमाल का प्रदर्शन किया है। लखनऊ विश्वविद्यालय के विधि संकाय ने उत्तर प्रदेश में प्रथम रैंक हासिल करके इंडियन इंस्टिट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (आईआईआरएफ) 2024 के अनुसार विधि (Law) की शिक्षा प्रदान करने वाला उत्तर प्रदेश का टॉप राज्य विश्वविद्यालय  बन गया है। 

यूपी के चार विश्वविद्यालयों ने बनाया स्थान- 

आईआईआरफ ने देश के टॉप 38 सरकारी और 50 निजी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों की सूची जारी की है। जिसमें यूपी के चार सरकारी विश्वविद्यालय शामिल हैं। नेशनल और स्टेट यूनिवर्सिटीज की संयुक्त रैंकिंग में लखनऊ के दो विश्वविद्यालय डॉ.राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी को तीसरा और लखनऊ यूनिवर्सिटी को चौथा स्थान मिला है। वहीं राज्य विश्वविद्यालयों में लखनऊ यूनिवर्सिटी विधि संकाय प्रथम स्थान पर है। उत्तर प्रदेश के सभी विधि संस्थानों में, यह एएमयू, बीएचयू और राम मनोहर लोहिया राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के बाद चौथे स्थान पर है, जोकि केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं।

"विश्वविद्यालय की रैंकिंग में यह सुधार उद्योग-केंद्रित पाठ्यक्रम, शिक्षकों की नियुक्ति और बुनियादी ढ़ांचे के उन्नयन का परिणाम हैं। इन कारकों ने शिक्षण और अनुसंधान की गुणवत्ता को बढ़ाने में जरूरी योगदान दिया है।" प्रो. आलोक कुमार राय, वीसी लखनऊ यूनिवर्सिटी

यूपी के पांच निजी विश्वविद्यालयों के  नाम भी शामिल-

 उत्तर प्रदेश के पांच निजी विश्वविद्यालयों व कॉलेजों ने भी जगह बनाई है। प्रदेश से निजी विश्वविद्यालयों में लॉयड लॉ कॉलेज ग्रेटर नोएडा, एमिटी लॉ स्कूल नोएडा, इंटीग्रल विवि का विधि संकाय, एशियन लॉ कॉलेज नोएडा और तीर्थंकर महावीर कॉलेज ऑफ लॉ एंड लीगल स्टडीज मुरादाबाद का नाम शामिल है। 

6 मानकों पर रैंकिंग-

इंडियन इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क ने छह मानकों के आधार पर रैंकिंग दी है। इसमें रोजगार क्षमता, शिक्षण सामग्रियां, संकाय, आधारभूत संरचना, परियोजनाएं एवं विषय समस्या अध्ययन और नवाचार शामिल था। संस्थानों में सभी मानकों का मुआयना करने के बाद आईआईआरएफ रैंकिंग दी गई है।

विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ने की उम्मीद-

लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रवक्ता के अनुसार विधि संकाय ने मानदंडों पर अच्छा प्रदर्शन किया है। विधि संकाय की इस उल्लेखनीय उपलब्धि से भारतीय और विदेशी छात्र छात्राओं के ज्यादा से ज्यादा आकर्षित होने की उम्मीद है। हाल ही में विश्वविद्यालय ने शिमागो इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग 2024 में देश में 91वां स्थान हासिल किया है, जो विश्वविद्यालय के लिए अपनी शैक्षणिक उपलब्धियों पर जश्न मनाने का एक अन्य कारण के रूप में आईआईआरएफ परिणामों के महत्व को रेखांकित करता है।

देश में  लखनऊ यूनिवर्सिटी को मिला 32वां स्थान-

देश के सर्वश्रेष्ठ सरकारी विधि कॉलेजों और विश्वविद्यालयों की लिस्ट में लखनऊ यूनिवर्सिटी को 32वां स्थान मिला है। वहीं एएमएयू को 11वां, बीएचयू को 19वां और आरएमएनलखनऊ यूनिवर्सिटी को 24वां स्थान दिया गया है। 2023 में लखनऊ यूनिवर्सिटी की 33वीं रैंक थीं। वहीं आरएमएनलखनऊ यूनिवर्सिटी की 23वीं और एएमयू की 10वीं रैंक थी। इन सभी कॉलेजों की रैंक में सुधार हुआ है।

अन्य ख़बरें