बड़ी खबरें

लोकतंत्र के उत्सव में मतदाताओं ने दिखाया उत्साह, पहले चरण में 68.29 फीसदी हुआ मतदान 16 घंटे पहले राममंदिर में आज से फिर शुरू हो जाएंगे वीआईपी दर्शन, विशिष्ट और आरती पास की सुविधा भी हुई बहाल 16 घंटे पहले कुर्की को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दिया नया फैसला, कहा- 'गैंगस्टर एक्ट में कुर्क नहीं कर सकते कमाई से अर्जित संपत्ति' 16 घंटे पहले यूपी में तीसरे चरण के लिए 182 प्रत्याशियों ने किया नामांकन, तीसरे चरण के चुनाव के लिए 7 मई को होंगे मतदान 16 घंटे पहले इकाना में चेन्नई के खिलाफ लखनऊ ने बनाए कई बड़े रिकॉर्ड्स, राहुल ने महेंद्र सिंह धोनी को बतौर विकेट कीपर सबसे ज्यादा अर्धशतक जड़ने के मामले में छोड़ा पीछे 16 घंटे पहले बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन की तारीख में हुआ बदलाव, अब 30 अप्रैल तक कर सकतें हैं आवेदन 16 घंटे पहले यूपी बोर्ड का 10वीं और 12वीं का रिजल्ट हुआ जारी, लड़कियां रहीं अव्वल 13 घंटे पहले 'कांग्रेस ने डिजिटल भुगतान का उड़ाया मजाक', बेंगलुरु में इंडी गठबंधन पर जमकर बरसे PM Modi 8 घंटे पहले कोटा में गरजे शाह, बोले- राहुल बाबा कान खोलकर सुन लो, चाहोगे तो भी आरक्षण हटाने नहीं देंगे 8 घंटे पहले

यूपी सरकार की बड़ी उपलब्धि, इस योजना में बना नंबर वन

Blog Image

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने  प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत 5 करोड़ लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनाकर कीर्तिमान स्थापित कर लिया है। उत्तर प्रदेश इस योजना के तहत पांच करोड़ लाभार्थियों के कार्ड बनाने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। पांच साल  पहले यह योजना लागू की गई थी। 17 सितंबर वर्ष 2023 तक 3.06 करोड़ कार्ड ही बन पाये थे। केवल 8 महीने में ही सर्वाधिक 1.94 करोड़ लाभार्थियों के कार्ड बनाए गए।

प्राइवेट अस्पतालों में करा सकते हैं इलाज-

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर जोर देते रहे हैं और अधिकारियों को राज्य के प्रत्येक  जरुरतमंद नागरिक के पास आयुष्मान कार्ड दिए जाने के निर्देश देते रहे हैं। जिसका नतीजा ये है कि आज राज्य में आर्थिक रूप से कमजोर लोग भी प्राइवेट अस्पतालों में अपना इलाज करा सकते हैं।

सीएम योगी ने दी बधाई-

उत्तर प्रदेश की इस उपलब्धि पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने बधाई देते हुए  कहा, 'प्रदेशवासियों को बधाई! आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश अपने 5 करोड़ नागरिकों को आयुष्मान कार्ड का 'सुरक्षा कवच' प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। यह उपलब्धि 'नए उत्तर प्रदेश' में पात्र लोगों तक योजनाओं की सौ फीसदी पहुंच को सुनिश्चित करने के हमारे संकल्प की एक झांकी है। 'नए उत्तर प्रदेश' में आर्थिक अभाव के कारण कोई गरीब इलाज से वंचित न रहे, यह डबल इंजन सरकार की प्राथमिकता है।'

90 फीसदी से ज्यादा का क्लेम-

उत्तर प्रदेश के लगभग 3 हजार 716 अस्पताल इस योजना के अंतर्गत आते हैं। इस योजना के तहत अब तक 34 लाख 81 हजार 252 हेल्थ क्लेम किए गए हैं, जिनमें से 32 लाख 75 हजार 737 लोगों को हेल्थ क्लेम का भुगतान किया जा चुका है। कुल मिलाकर 92.48 फीसदी क्लेम का निस्तारण किया जा चुका है। 

आयुष्मान भारत योजना से लाभ-

आयुष्मान भारत योजना के तहत एक लाभार्थी परिवार को एक साल में पांच लाख रुपये के मुफ्त उपचार की व्यवस्था की गई है। ये योजना पाँच साल पहले लागू की गई थी। आयुष्मान योजना का लाभ देने वाले अस्पतालों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। कुल 5 हजार 351 अस्पतालों में इस योजना से मुफ्त उपचार की सुविधा दी जा रही है। कुल लाभार्थी परिवारों की संख्या 1.80 करोड़ है। आयुष्मान एप के माध्यम से अब कोई भी लाभार्थी घर बैठे आसानी से ऑनलाइन आयुष्मान कार्ड बनवा सकता है।

अन्य ख़बरें