बड़ी खबरें

लोकतंत्र के उत्सव में मतदाताओं ने दिखाया उत्साह, पहले चरण में 68.29 फीसदी हुआ मतदान 17 घंटे पहले राममंदिर में आज से फिर शुरू हो जाएंगे वीआईपी दर्शन, विशिष्ट और आरती पास की सुविधा भी हुई बहाल 17 घंटे पहले कुर्की को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दिया नया फैसला, कहा- 'गैंगस्टर एक्ट में कुर्क नहीं कर सकते कमाई से अर्जित संपत्ति' 17 घंटे पहले यूपी में तीसरे चरण के लिए 182 प्रत्याशियों ने किया नामांकन, तीसरे चरण के चुनाव के लिए 7 मई को होंगे मतदान 17 घंटे पहले इकाना में चेन्नई के खिलाफ लखनऊ ने बनाए कई बड़े रिकॉर्ड्स, राहुल ने महेंद्र सिंह धोनी को बतौर विकेट कीपर सबसे ज्यादा अर्धशतक जड़ने के मामले में छोड़ा पीछे 17 घंटे पहले बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन की तारीख में हुआ बदलाव, अब 30 अप्रैल तक कर सकतें हैं आवेदन 17 घंटे पहले यूपी बोर्ड का 10वीं और 12वीं का रिजल्ट हुआ जारी, लड़कियां रहीं अव्वल 13 घंटे पहले 'कांग्रेस ने डिजिटल भुगतान का उड़ाया मजाक', बेंगलुरु में इंडी गठबंधन पर जमकर बरसे PM Modi 9 घंटे पहले कोटा में गरजे शाह, बोले- राहुल बाबा कान खोलकर सुन लो, चाहोगे तो भी आरक्षण हटाने नहीं देंगे 9 घंटे पहले

कानपुर पान मसाला कारोबारी के पास करोड़ों की कारें, अरबों रुपये की काली कमाई सामने आई

Blog Image

- कानपुर के पान मसाला कारोबारी के ठिकानों पर आयकर सर्वे

यूपी के कानपुर के तंबाकू व्यापरी की फर्म बंशीधर टोबैको प्राइवेट लिमिटेड और इससे जुड़े अन्य ठिकानों पर इनकम टैक्स ने बड़ी कार्रवाई की है। इस छापेमारी में भारी गड़बड़ियों के सबूत मिले हैं। सूत्रों के अनुसार सर्वे के पहले दो दिनों में आयकर की टीमों को करीब 4 करोड़ रुपये नकद और करोड़ों रुपये की लग्जरी कारें मिली हैं। इन कारों में लम्बोर्गिनी, मेक्लॉरेन, फरारी, रोल्य रॉयस जैसे ब्रैंड्स शामिल हैं। हालांकि अभी यह पता नहीं चल पाया है कि इतनी महंगी गाड़ियों को बेनामी खातों के जरिए खरीदा गया है या नहीं। सर्वे फिलहाल जारी है। इस फर्म में टैक्स चोरी का दायरा 100 करोड़ रुपये के ऊपर बताया जा रहा है। 

कल से चल रही है छापेमारी

आयकर की कई टीमों ने देशभर में 10-15 लोकेशन पर गुरुवार सुबह से ही सर्वे शुरू किया था। बंशीधर टोबैको के कानपुर, दिल्ली सहित कई अन्य शहरों के ऑफिस और घरों के अलावा एक्सपोर्ट कारोबार से जुड़ी फर्में भी जांच के दायरे में हैं। कानपुर और आसपास के जिलों में पिछले 2-3 साल में इनकम टैक्स और जीएसटी विभाग ने शिकंजा कसा है। इसके बाद यहां बड़े पैमाने पर अवैध रूप से या टैक्स चोरी कर बनाई गई संपत्तियों की रिकवरी हुई है।

कंपनी ने बताया था इतने करोड़ का टर्नओवर

कंपनी ने 20 से 25 करोड़ का टर्नओवर बताया है लेकिन हकीकत में यह टर्नओवर 100-150 करोड़ के आसपास है। जांच में पाया गया है कि अपने हिसाब-किताब में कई तरह की गड़बड़ियां मिली हैं। कंपनी कई अन्य बड़े पान मसाला घरानों को उत्पाद की आपूर्ति कर रही थी। अधिकारियों ने बताया कि आयकर टीम ने कंपनी और उसके मालिक की संपत्ति और आय के साथ-साथ कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों और लैपटॉप का भी मिलान किया गया है। 

यूपी के कई धनकुबेरों पर हो चुकी है कार्रवाई-

उत्तर प्रदेश के झांसी में घनाराम के ठिकानों से आयकर ने 800 करोड़ रुपये की संपत्तियों और लेनदेन का खुलासा किया था। इसी तरह 2023 में कानपुर में राधामोहन पुरुषोत्तम दास ज्वैलर्स के यहां हुई छापेमारी में करीब 1500 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी का मामला सामने आया था इसके साथ ही 1200 करोड़ रुपये की बोगस खरीद के सबूत हाथ लगे थे। साथ ही 500 करोड़ की बोगस बिक्री के सबूत भी मिले थे। 26 करोड़ रुपये का सोना और कौश भी बरामद हुआ था। 

अन्य ख़बरें

संबंधित खबरें