बड़ी खबरें

भर्तृहरि महताब बने प्रोटेम स्पीकर, राष्ट्रपति ने दिलाई शपथ 20 घंटे पहले नीट विवाद में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, दोषियों पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग 20 घंटे पहले लखनऊ में UPSRTC मुख्यालय के बाहर मृतक आश्रितों का नौकरी की मांग पर धरना, 'नियुक्ति दो या जहर दे दो' का लिखा स्लोगन 20 घंटे पहले लखनऊ में 33 विभूतियों समेत 66 मेधावी सम्मानित, क्षत्रिय लोक सेवक परिवार ने हल्दीघाटी मनाया विजयोत्सव 20 घंटे पहले वर्ल्ड चैंपियन इंग्लैंड ने टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे पहले सेमीफाइनल में बनाई जगह, अमेरिका को एकतरफा मुकाबले में 10 विकेट से हराया 20 घंटे पहले संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट (SGPGI) लखनऊ में 419 वैकेंसी, 25 जून 2024 है लास्ट डेट, 40 वर्ष तक के उम्मीदवारों को मिलेगा मौका 20 घंटे पहले हरियाणा लोक सेवा आयोग (HPSC) ने मेडिकल ऑफिसर के 805 पदों पर निकाली भर्ती, 12 जुलाई 2024 है आवेदन करने की लास्ट डेट 20 घंटे पहले CBSE ने रीजनल डायरेक्टर सहित अन्य पदों पर निकाली भर्ती, एज लिमिट 56 वर्ष, सैलरी 65 हजार से ज्यादा 20 घंटे पहले मोदी ने सांसद पद की ली शपथ, 18वीं लोकसभा का पहला संसद सत्र शुरू 19 घंटे पहले सुप्रीम कोर्ट का केजरीवाल को तत्काल राहत देने से इनकार, 26 जून को होगी अगली सुनवाई 17 घंटे पहले

रामलला के दरबार में क्यों फफक कर रो पड़े सपा विधायक!

Blog Image

अयोध्या की गोसाईंगंज सीट से समाजवादी पार्टी के बाहुबली विधायक अभय सिंह आज  रामलला के दर्शन करने पहुंचे थे। रामलला के दर्शन के दौरान सपा विधायक अभय सिंह भावुक हो गए और फफक कर रोने लगे। जब उनके रोने का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया कि समाजवादी पार्टी नेतृत्व की ओर से उन्हें रामलला के दर्शन से रोका गया था। उन्होंने बताया कि इसके चलते समाजवादी पार्टी के कुछ विधायकों में गहरा रोष था। बीते दिनों अभय ने इस पर खुलकर विरोध दर्ज कराया था।

अभय सिंह ने अपने सोशल मीडिया पर शेयर की तस्वीरें-

अयोध्या में रामलला के दर्शन करने के बाद अभय सिंह ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भगवान राम की तस्वीरों को भी शेयर किया है। 

 

राज्यसभा चुनाव में की थी क्रॉस वोटिंग-

हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव के दौरान अभय सिंह ने बीजेपी समर्थित प्रत्याशी के पक्ष में वोटिंग की थी। जिसके चलते बीजेपी ने राज्यसभा में 8 सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं समाजवादी पार्टी के हिस्से में केवल 2 सीटें ही आईं थीं। इन घटनाक्रम को देखकर कयास लगाए जा रहे हैं कि अभय सिंह भी जल्द ही बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। 

अभय सिंह ने सपा पर लगाया बड़ा आरोप- 

अयोध्या पहुंचने पर उन्होंने यह भी कहा कि हम लोग रामलला प्राण प्रतिष्ठा समारोह में 22 जनवरी को ही शामिल होना चाहते थे लेकिन हमें निमंत्रण नहीं मिला। इसलिए विधानसभा अध्यक्ष से रामलला के दर्शन की अपील की थी। विधानसभा अध्यक्ष ने सदन में सभी सदस्यों को निमंत्रण दिया। अभय सिंह ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष ने कहा था कि जो कोई भी रामलला के दर्शन करने जाना चाहता है, वो हमारे साथ चल सकता है। समाजवादी पार्टी के अलावा सभी पार्टियों के विधायक अयोध्या पहुंचे लेकिन हमें नहीं जाने दिया गया। हमारे अराध्य के दर्शन करने से भी हमें रोक दिया गया।

 

अन्य ख़बरें

संबंधित खबरें